हिना खातून जीवन परिचय। Hina Khatoon Biography

हिना खातून जीवन परिचय l Hina Khatoon Biography

जीवन

हिना खातून उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले की एक गरीब मुस्लिम परिवार से हैं। जिनका जीवन बड़ा ही संघर्ष पूर्ण रहा। लाख कठिनाइयों के बावजूद दृढ़ संकल्प के जरिए खुद को आगे बढ़ाया। जोकि आज के युवाओं के लिय मिसाल बनी।

संक्षिप्त परिचय

नामहिना खातून
जन्म 12 अगस्त 1995
पितारहमत अली
मातातराबुन्निशां
जन्म स्थान उत्तर प्रदेश,बस्ती
शिक्षापरस्नातक, M.P.Ed, योग में डिप्लोमा
उपलब्धियां स्टेट में आठ साल तक चैंपियन
योगदानखेल के क्षेत्र,

पारिवारिक जीवन

हिना खातून का जीवन बड़ा ही दयनीय एवं संघर्षों से भरा रहा। मां तराबुन्निशां बताती है की पति को पुत्र की चाहत ने एक के बाद एक कर सात बेटियों को जन्म दे दिया। लड़का पैदा न होने पर हीना के पिता ने हिना की मां को खुद से अलग कर दिया। सात बच्चों के साथ बस्ती जिले के पॉलीटेक्निक चौराहे पर टीन शेड के एक छोटे से कमरे जीवन जिया। बीमारी के चलते गरीबी एवं पैसे की तंगी की वजह से हिना की मां अपने तीन बेटियों का जीवन ना बचा सकी। हिना की मां तराबुन्निशां दूसरे के घरों में बरतन माज कर तथा अण्डे की दुकान लगाकर बेटी के सपनो को पंख लगा रही हैं।

अपनी मां के संघर्षों को बताते हुए अक्सर हिना के आंखों में आंसू आ जाते हैं। हिना का सपना है की वह राष्ट्रीय स्तर पर खेलते हुए एक दिन अपने देश का नाम रोशन करे, लेकिन गरीबी और मुफलिसी हिना की राहों में रोड़ा अटका रहे हैं। बावजूद इसके हिना अपनी मंजिल को पाने के लिए हमेशा संघर्ष कर रही हैं।

खेल

हिना राष्ट्रीय स्तर की 15 हैंडबॉल प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले चुकी है। 2014 में आयोजित कर्नाटक के चित्रदुर्ग आयोजित राष्ट्रीय प्रतियोगिता में उत्तर प्रदेश की टीम से प्रतिभाग करने वाली बस्ती की हिना खातून, पूजा पाल, सरिता चौधरी व नाजिया खातून के बेहतरीन प्रदर्शन से बिहार की टीम को 25-20 के भारी अंतर से परास्त कर कांस्य पदक पर कब्जा जमा था। हरियाणा, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, हैदराबाद में हुई राष्ट्रीय स्तर के खेल में हिना ने हिस्सा लिया और विपरीत परिस्थितियों में भी हिना ने कांस्य पदक जीत कर अपना लोहा मनवाया।

वर्तमान

वर्तमान में हिना खातून उत्तर प्रदेश के बलरामपुर स्टेडियम में हैंडबॉल के कोच के रूप में कार्यरत है। इसके साथ ही साथ अक्सर सामाजिक कार्यों में भी अपना विशेष योगदान दे रही है।

Leave a comment